सपनो का एक अलग मुकाम होगा

Shikarganj Road, Sirauna

सपनो का एक अलग मुकाम होगा
तेरी ज़िंदगी मे नया आसमान होगा

कौन होगा जो जानबूझ कर रोएगा
ज़रूर कोई दर्द का निशान होगा

यूँ सुस्त रहने से मंज़िल नहीं मिलेगी
मेहनत और मशक्कत से ही नाम होगा

आज़ाद हूँ मैं और खुद पर भरोसा है
दूसरों के सहारे से क्या काम होगा

आज तेरे साथ शायद दुनिया खड़ी है
मतलब निकलने पर सब सुनसान होगा

वक़्त के साथ अपनी अक्ल को मिला ले
फिर हर वक़्त तेरे लिए वरदान होगा

जो भी समेटा है तूने सुख समझकर
इस नकली दुनिया मे सब कुछ नीलाम होगा

निकल अपने दायरे से अगर कुछ करना है
वरना तू हालातों का गुलाम होगा

खुद की ख़ैरियत का ख़याल रखते हो
जो दूसरे की सोचे वही इंसान होगा

मत सोच कि हिम्मत का क्या सिला होगा
एक दिन मेहनत का तुझे इनाम मिलेगा

इस शहर के नज़रिया बेरूख़ा है तो क्या
अपने नगर मे कोई नया जहाँ होगा

पैर और हाथों मे कोई ज़ंज़ीर नहीं बँधी
बस चलने से ही रास्ता आसान होगा

आवाम की खिदमत मे ज़िंदगी लुटा दे
कौन है जो फिर रुतबे से अंजान होगा

About the Author

admin

सांझी बात एक विमर्श बूटी है जीवन के विभिन्न आयामों और परिस्थितियों की। अवलोकन कीजिए, मंथन कीजिए और रस लीजिए वृहत्तर अनुभवों का अपने आस पास।

You may also like these