संस्कृति से अलगाव की विकृत मानसिकता ही मानवीय संवेदनाओ के पतन का प्रमुख कारण है

तेजी से वैश्वीकरण और सांस्कृतिक आदान-प्रदान की विशेषता वाले युग में, वैदिक सनातन धर्म, इसके अनुष्ठानों और भारतीय संस्कृति की